रविवार, 16 फ़रवरी 2014

ऐंग्री बर्ड से जासूसी !



आपने अपने मोबाइल फोन में कई गेम डाउनलोड किए होंगे ताकि आप उन्हें खेलकर अपना मनोरंजन कर सकें। लेकिन अगर आपको पता चले कि अपने मोबाइल पर जिन गेम को खेलने में आप घंटों बिता देते हैं, उनमें से एक गेम ऐंग्री बर्ड के जरिए कोई आपकी जासूसी कर रहा है, तो। यह जानकर आपको आश्चर्य होने के साथ गुस्सा भी आएगा। जी हां, एक रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका और ब्रिटेन की डिटेक्टिव एजेंसियां नियमित रूप से ऐंग्री बर्ड और अन्य मोबाइल ऐप्लिकेशंस की मदद से लोगों की निजी जानकारियां हासिल करने की कोशिश कर रही हैं।
राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) के एक दस्तावेज से पता चला है कि मोबाइल ऐप्लिकेशन से कन्जयूमर्स के ठिकाने, देखी गई वेबसाइट्स और उनके संपर्क से जुड़े आकड़ों सहित अन्य जानकारियां पाने की कोशिश की जा रही है।
एडवर्ड स्नोडेन द्वारा जारी किए गए दस्तावेजों से हुआ यह सबसे ताजा रहस्योद्घाटन है।
एनएसए ने एक बयान में कहा है कि वैध विदेशी खुफिया टार्गेट के आंकड़ों के अलावा अन्य किसी भी आंकड़े में एजेंसी की कोई दिलचस्पी नहीं है। इस बयान में कहा गया है कि ऐसा कोई अंदेशा जताना कि विदेशी खुफिया आंकड़ों को जुटाने का एनएसए का कार्यक्रम आम अमेरिकी नागिरकों के स्मार्टफोन या सोशल मीडिया पर केंद्रित है, सही नहीं है। न्यू यॉर्क टाइम्स, प्रो-पब्लिका और द गार्डियन द्वारा प्रकाशित इस रिपोर्ट में कहा गया है कि एनएसए और ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी जीसीएचक्यु साल 2007 से ही मोबाइल फोन और टैबलेट ऐप्लिकेशन के माध्यम से जानकारी इकट्ठा करने के तरीके विकसित करने के लिए मिलकर काम कर रही हैं।
लेकिन शायद अब इन एजेंसियों ने ऐसी ऐप्लीकेशन विकसित कर ली हैं और इनके सहारे जानकारी को इकट्ठा करना शुरू भी कर दिया है।

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करनाचाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:facingverity@gmail.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!
Source – KalpatruExpress News Papper

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें