गुरुवार, 6 फ़रवरी 2014

बंदर-बंदरिया की बारात


                      

वाराणसी। इस समय जहां चारों तरफ शादियों की धूम मची हुई है, वहीं एक ऐसी अनोखी शादी भी हो चुकी है जिसके बारे में सुनने वाला हर शख्स आश्चर्य में पड़ गया। यह अनोखी शादी इसलिए थी कि बैंड- बाजे के साथ आगे-आगे 150 बाराती चल रहे थे और पीछे-पीछे कुत्ते पर सवार मंगरू बंदर की सवारी।
यह अनोखी शादी वाराणसी के 5 वर्षीय मंगरू बंदर की थी, जिसमें वह इन बहुत सारे बारातियों के साथ अपनी प्रेमिका मनकी बंदरिया को ब्याहने जा रहा था। इस नजारे को जिसने भी देखा, आश्चर्य में पड़ गया।
इस वानर विवाह में सामान्य विवाह की तरह सारी रस्में निभाई गईं, जिसमें स्टेज पर जयमाल तथा सिंदूरदान की औपचारिकताएं भी पूरी हुईं। दूल्हा- दुल्हन बने मंगरू बंदर और मनकी बंदरिया बाकायदा स्टेज पर विराजमान हुए और सारी रस्में पूरी हुईं। इस शादी में करीब 300 लोगों ने दावत उड़ाई। फिर मनकी की विदाई की गई। वानरों की इस अनोखी शादी के पीछे कहानी ये है कि मंगरू बंदर यहां के निवासी रामलखन का है और मनकी पप्पू यादव की बंदरिया है।
ये दोनों आपस में दोस्त हैं।
ये दोनों दोस्त जब भी एक- दूसरे के घर जाते हैं, अपने बंदरों को साथ ले जाते। इसी बीच मंगरू और मनकी की आंखें चार हो गईं और प्यार परवान चढ़ गया और फिर एक दिन ऐसा आया कि ये दोनों प्रेमी-प्रेमिका एक दूसरे को छोड़ने के तैयार ही नहीं हो रहे थे। इन दोनों का प्रेम देखते हुए रामलखन और पप्पू यादव ने दोनों की शादी करवा दी और वे एक-दूजे के हो गए।
यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करनाचाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:facingverity@gmail.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!
Source – KalpatruExpress News Papper

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें