शनिवार, 1 मार्च 2014

मिलिए दुनिया की सबसे बदसूरत महिला से


खूबसूरत' कहे जाने पर आप उछल पड़ते हैं. दूसरे खूबसूरत लोगों के बारे में जानना चाहते हैं, उनके चेहरे देखना चाहते हैं. सुंदरता को लेकर एक किस्म का रोमांच और जिज्ञासा हमारे भीतर है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि दुनिया के किसी कोने में एक औरत ऐसी भी रहती है जिस पर विज्ञान उतना मेहरबान नहीं हुआ. दुनिया की सबसे 'बदसूरत' महिला होना क्या होता है, जानना है तो लिजी वेलसक्वेज से मिलिए.
लिजी का नैन-नक्श से आप प्रभावित नहीं होंगे, असहज भी हो सकते हैं. लेकिन जब आप जानेंगे कि इस निष्ठुर समाज में किस जीवटता के साथ उन्होंने अपने हिस्से की जगह बनाई है, तो आपका सिर उनके सम्मान में झुक जाएगा.
लिजी धरती के उन तीन लोगों में शामिल हैं जो असामान्य जेनेटिक विकारों के साथ पैदा हुए और इस वजह से उनका वजन कभी नहीं बढ़ पाया. लिजी का वजन कभी भी 62 पाउंड यानी 28.12 किलोग्राम से ज्यादा नहीं हुआ. इतना ही नहीं, जन्म से ही लिजी की दाईं आंख बेकार है.
लिजी जब हाईस्कूल जूनियर ईयर की पढ़ाई कर रही थीं, यूट्यूब पर उन्हें खुद का एक वीडियो मिला, जिसका टाइटल था, 'दुनिया की सबसे बदसूरत महिला'. दुर्भाग्य से इस वीडियो को अब तक 40 लाख हिट मिल चुके हैं.
वेबसाइट 'क्लैशडेली' के मुताबिक, लिजी के माता-पिता ने यूट्यूब से वीडियो हटवाने की कोशिश की, लेकिन वीडियो अपलोड करने वाले अनजान शख्स ने ऐसा करने से मना कर दिया.
इतना सब कुछ होने के बाद भी लिजी के रवैये में गुस्सा, निराशा और डिप्रेशन, आपको ढूंढे नहीं मिलेगा. उन्होंने हाईस्कूल के फ्रेशर्स को अपने दुर्लभ डिसऑर्डर के बारे में समझाया. इतना ही नहीं, उन्होंने चिढ़ाने वालों को सामने आकर बात करने के लिए चैलेंज किया है.
इसके बाद लिजी वेलसक्वेज को कई टीवी प्रोग्राम में बुलाया गया. उन्होंने तीन किताबें भी लिख दी हैं, जिनमें से एक का नाम है, 'बी ब्यूटिफुल, बी यू.'
लिजी के माता-पिता कैथोलिक चर्च में ही पैदा हुए और चर्च के लिए ही काम किया. इसलिए लिजी की भी ईशू में गहरी आस्था है. वह कहती हैं, 'जब मैं अकेली होती हूं तो ईश्वर से प्रार्थना करती हूं. उनसे बात करती हूं और जानती हूं कि मेरी मदद के लिए वह हमेशा मौजूद हैं.'
लिजी की इस साल अपनी कहानी बयां करने के लिए कई जगह ट्रैवल करने की योजना है. वह कहती हैं, 'सबसे बुरे दौर में भी जब लगता हो कि चीजें कभी ठीक नहीं होंगी, अगर आपके पास आस्था की ताकत है तो कोशिश करके आप हर चीज से पार पा सकते हैं.'


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें